X

बैंक खाते कितने प्रकार के होते हैं, पूरी विस्तृत जानकारी

Types of bank accounts in hindi-आज के समय में ज्यादातर सभी के पास किसी न किसी बैंक में एंकाउंट होता है। लेकिन कुछ लोगों के पास बैंक एकाउंट होने के वावजूद उन्हे पता नहीं होता है कि उनका खाता चालू खाता(Current Account) है या बचत खाता(Saving Account) हैं। इन खातों की क्या खूबियां और फायदे होते हैं। यदि आप नहीं जानते हैं तो आज हम types of bank account के बारे में विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं-

Read More- Bitcoin क्या हैं, यह कैसे काम करता हैं

बैंक खातों के प्रकार | Types of bank account in hindi

मुख्यतः किसी भी Bank में चार तरह के Bank Account Open कराये जाते हैं। इन चारों Bank Accounts की अपनी अलग अलग खूबियां और बिशेषताएं होती है-

1-बचत खाता (Saving Account)

2-चालू खाता (Current Account)

3- आवर्ती जमा खाता (Recurring Deposit Account)

4- सावधि जमा खाता (Fixed Deposit Account)

Read More– Demat Account क्या है

1-बचत बैंक खाता –Saving Bank Account

Saving Bank Account आम लोगों के लिए और बहुत ही सरल तरह का Account होता है जिसे किसी भी सरकारी या निजी क्षेत्र की Bank में न्यूनतम धनराशि जमा करके Open कराया जा सकता है। नाम के अनुसार इस प्रकार का Bank Account मूलतः बचत करने के लिए ही खुलवाया जाता है इसीलिए इसे Saving Bank Account कहते हैं।

Saving Account धारकों को बैंक की तरफ से Pass Book, Chaque Book, Debit Card, Net Banking और Mobile Banking सुविधायें मुहैया करायी जाती है। इनमें से ज्यादातर फ्री है लेकिन कुछ सेवाओं के लिए आपसे फीस भी ली जा सकती हैं। इन बचत खातों में जमा राशि पर बैंको द्वारा करीब 4 से 6 प्रतिशत तक ब्याज भी दिया जाता है हालांकि यह ब्याज दर हर बैंक की अलग अलग होती है और समय समय पर बदलती रहती हैं। इसके अतिरिक्त बैंक के नियमों के मुताबिक खाता धारक द्वारा बचत खाते में एक न्यूनतम शेष राशि(Minimum Balance) को बनाये रखना भी जरूरी होता है अन्यथा बैंक पैनाल्टी के रूप में अलग से चार्ज करने लगते हैं।

Saving Accounts में प प्रतिदिन एक निश्चित सीमा तक की धनराशि को जमा(Deposit) और निकाल(withdraw) कर सकते हैं।

Read More– sukanya samriddhi yojana scheme in hindi 

चालू बैंक खाता – Current Bank Account

Current Bank Account बचत खातों से बिल्कुल अलग होते हैं, जिसे किसी Commercial Bank के साथ पैसों के लेन-देन करने के लिए खुलवाया जाता है या Maintain किया जाता है। इस Account को Chacking Account या Transaction Account के नाम से भी जाना जाता है। यह खाता विशेषकर कारोबारियों के ले होता है इस खाते में Saving Account की तरह जमा(Deposit) और निकालने(withdraw) की कोई सीमा नहीं होती है यानि दिन में आप कितने भी Transaction कर सकते हैं।

Current Bank Account में जमा राशि पर ब्याज नहीं मिलता है लेकिन इस खाते का सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि बैंक कारोबारियों को इसके जरिए पैसा देती है ताकि उनके बिजनेस में रुकावट ना आए। साथ ही बैंक चालू खाते में ओवर ड्राफ्ट की सुविधा भी देती है। यानी चालू खाते से कारोबारी उसमें मौजूद रकम से ज्यादा पैसा भी निकाल सकते हैं। किसी चालू खाते से कितनी राशि ओवरड्राफ्ट की जा सकती है इसका निर्धारण बैंक खाताधारक के टर्नओवर, मुनाफे आदि को ध्यान में रखकर तय करते हैं।

चालू खाता कोई भी व्यक्ति व्यक्तिगत या संयुक्त रूप से खुलवा सकता है। इसले साथ ही Company, Authorities, Trusts, NGOs, Societies द्वारा भी यह खाते खोले जा सकते हैं। इसके साथ ही बैंक इन खाता धारकों को अन्य कई सुविधाएं जैसे demand draft या Pay Order जारी करने, NEFT से Fund Transfer, Door-step-Banking, Check collection और भुगतान, मुफ्त Cash Deposit आदि शामिल है।

इसके साथ ही Current Bank Account में भी Internet Banking, Mobile Banking, ATM Cum Debit Card  Cheque Book आदि कई तरह की सुविधाएं प्राप्‍त होती हैं, जिनके माध्‍यम से हम विभिन्‍न तरीकों से पैसों का लेन देन कर सकते हैं।

आवर्ती जमा खाता- Recurring Deposit Account

Recurring Deposit Account यानि RD Account मूलतः उन लोगों के लिए उपयुक्त होता है जो नियमित रूप से बचत कर सकते हैं और एक निश्चित समय में जमा राशि पर उचित रिटर्न अर्जित करना चाहते हैं। स तरह के Account पर व्यक्ति को एक समय सीमा जो 1 से 5 वर्ष कुछ भी हो सकती है तक एक निश्चित राशि जमा करनी पड़ती है। समय पूरा होने पर पूरी राशि पर ब्याज सहित मूल राशि लौटा दी जाती है।

Read More– Mutual Fund In Hindi (mutual fund क्या है)

सावधि जमा खाता (Fixed Deposit Account)

Fixed Deposit Account जिसे FD Account भी कहा जाता है। सावदि जमा खाता में धन एक निश्चित समय के लिए जमा हो जाता है (जैसे 1 साल से 10 साल तक) यदि कोई खाता धराक किसी बजह से समय से पहले अपने खाते में जमा राशि को निकालना चाहता है तो बैंक उस पर कुछ पेनाल्टी लगाकर उसका शेष धन वापस कर देता है। सावधि जमा खाता में 8% से 10% तक ब्याज मिलता है।

Read More – NPA क्या है।

Technicalworld: